गृहमंत्री अमित शाह दो घंटे रहेंगे वाराणसी में, विश्वनाथ मंदिर तक व्यवस्थाएं चाक-चौबंद

गृहमंत्री अमित शाह दो घंटे रहेंगे वाराणसी में, विश्वनाथ मंदिर तक व्यवस्थाएं चाक-चौबंद

(रणभेरी): केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को उत्तर प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुचेंगे। दोनों के आगमन की सूचना जिला प्रशासन के पास आ गई है। शाह के कार्यक्रम के अनुसार गृहमंत्री एक बजकर 35 मिनट पर पिपरसंड से हेलीकॉप्टर से मिर्जापुर के लिए रवाना होंगे।  कार्यक्रम के अनुसार वह अपराह्न दो बजकर 40 मिनट पर वह मिर्जापुर पहुंचेंगे और दोपहर बाद तीन बजे विंध्यवासिनी मंदिर के लिए रवाना होंगे और वहां पूजा अर्चना करेंगे.कार्यक्रम में बताया गया है कि इसके बाद चार बजकर 37 मिनट तक उनका कार्यक्रम मां विंध्यवासिनी कॉरिडोर परियोजना के शिलान्यास और रोपवे सहित अन्‍य विकास योजनाओं के लोकार्पण संबंधी कार्यक्रम के लिए आरक्षित किया गया है। चार बजकर 40 मिनट पर वह वाराणसी के लिए रवाना होंगे और पांच बजकर 10 मिनट पर वाराणसी हवाई अड्डे से दिल्ली के लिए प्रस्थान करेंगे। मिर्जापुर नगर क्षेत्र से बीजेपी विधायक रत्नाकर मिश्र ने मंगलवार को बताया था कि गृहमंत्री अमित शाह एक अगस्त को विंध्य कॉरिडोर की आधारशिला रखेंगे तथा इसके उपरांत नगर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। 

जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वीआईपी आगमन के दौरान किसी प्रकार की कोई कमी न रहे। वहीं, सफाई से लेकर सड़कों को दुरुस्त करने का काम देर रात तक जारी रहा। वहीं, मंदिर से ललिता घाट के बीच चल रहे कार्य स्थल के पास हरा पर्दा लगाया गया। जहां बारिश से कीचड़ हो गया है वहां गिट्टियां डाली गई हैं। रेड कार्पेट भी बिछाया जा रहा है

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के काशी दौरे को लेकर एयरपोर्ट से लेकर बाबा विश्वनाथ मंदिर तक की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता की गई। शनिवार को पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिए। इस दौरान पुलिस आयुक्त ने अधिकारियों संग संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी के खेल मैदान में हेलीपैड स्थल का जायजा भी लिया।

मिर्जापुर से आगमन के दौरान अमित शाह सेना के हेलीकाप्टर से संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी के खेल मैदान पर उतरेगा। इस दौरान एयरपोर्ट पर भी सीआईएसएफ ने अपनी तैयारियों को परखा। उधर, मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा और बाबतपुर एयरपोर्ट स्थित एक निजी अस्पताल में सेफ हाउस बनाया गया। यहां चिकित्सकों की तैनाती भी कर दी गई।