सफलता का मंत्र: पीएम मोदी ने बोला 'शह और मात' के खेल में जीत का राज

सफलता का मंत्र: पीएम मोदी ने बोला 'शह और मात' के खेल में जीत का राज

(रणभेरी): पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी के ट्रेनी आईपीएस अधिकारियों को संबोधित किया। पीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ट्रेनी अधिकारियों से कहा कि आप जैसे युवाओं पर बड़ी जिम्मेदारी है। महिला अफसरों की भूमिका भी अहम है। पीएम ने कहा कि अफसरों की पढ़ाई देश सेवा में काम आती है। आपको हमेशा ये याद रखना है कि आप एक भारत, श्रेष्ठ भारत के भी ध्वजवाहक हैं, इसलिए आपकी हर गतिविधि में नेशन फर्स्ट, आलवेज फर्स्ट यानी राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम की भावना झलकनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि आपकी सेवाएं देश के अलग-अलग जिलों और शहरों में होगी। आपको एक मंत्र हमेशा याद रखना होगा कि फील्ड में रहते हुए आप जो भी फैसले लें, उसमें देशहित और राष्ट्रीय परिपेक्ष्य होना चाहिए। इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय भी मौजूद थे।

पीएम ने 'आईपीएस' के 144 परिवक्षाधीन अधिकारियों के साथ संवाद करते हुए उन्हें जीत का मंत्र दिया है। अमरावती 'महाराष्ट्र' के गौरव राय, जिन्हें छत्तीसगढ़ कैडर मिला है, उनसे बात करते हुए पीएम ने उनके खेल के बारे में पूछा। मालूम हुआ कि गौरव राय 'शतरंज' अच्छा खेल लेते हैं। पीएम मोदी ने कहा, शह और मात के खेल में आपको जीतना ही है। अपराध को काबू करने में शतरंज कारगर है। पीएम ने जब शतरंज की विशेषता पूछी तो गौरव ने कहा, इसमें 'स्ट्रेटजी और टैक्टिक्स' दोनों साथ रहती हैं। अगर इनमें बेहतर समन्वय है तो ऑपरेशन में सफलता मिलती है। सफल ऑपरेशन वही होता है, जिसमें कम हानि के साथ दुश्मन को ज्यादा से ज्यादा रोका जा सके। पीएम मोदी ने इस पर कहा, माओवादी हिंसा को कम करने का प्रयास हो रहा है। सरकार 'विकास और विश्वास' का पुल बना रही है।