वाराणसी: छात्राओं ने पाक कला के साथ सीखे आपदा प्रबंधन के गुर

वाराणसी: छात्राओं ने पाक कला के साथ सीखे आपदा प्रबंधन के गुर

श्री अग्रसेन कन्या पीजी कॉलेज में चल रहे पांच दिवसीय कौशल प्रशिक्षण का समापन

वाराणसी(रणभेरी): श्री अग्रसेन कन्या पीजी कॉलेज, परमानंदपुर में चल रहे पांच दिवसीय प्रवेश और निपुण प्रशिक्षण शिविर का समापन सोमवार को हुआ। इस कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कौशल का प्रशिक्षण छात्राओं को दिया गया। इसमें मुख्य रूप से कंपास मैप, चूल्हे पर भोजन बनाना, टेंट, फूल, हस्तकला, नियम, प्रतिज्ञा, चिन्ह, सिद्धांत, आपदा प्रबंधक आदि के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान की गई।

इस शिविर के माध्यम से बुलानाला और परमानंदपुर शाखा की लीडर्स का चयन किया गया। जिसमें बुलानाला से भारती सीनियर रेंजर, आंचल सहायक रेंजर एवं स्नेहा यादव आजीवन सदस्य एवं परमानंदपुर की निक्की सीनियर रेंजर, दिव्यानी सहायक रेंजर और प्रीति आजीवन सदस्य के रूप में चयनित हुई। प्राचार्य डॉक्टर कुमकुम मालवीय ने कहा कि छात्रों को पढ़ाई के साथ ऐसे कार्यक्रमों में भागीदारी उन्हें सशक्त और भविष्य के लिए दिशा निर्देश का काम करता है।

प्रबंधक अनिल जैन ने कहा आज के समय में जरुरी हो गया है कि बिटिया सशक्त और निपुण बने आज का युवा ही देश का भविष्य है। चीफप्रोक्टर अनीता सिंह ने कहा कि रेंजर्स का पाठ्यक्रम महाविद्यालय में अति आवश्यक है। यह व्यक्ति के अंदर कार्यकुशलता नेतृत्व अनुशासन की भावना जागृत करता है। समापन समारोह की मुख्य अतिथि अनीता सिंह, विशिष्ट अतिथि सहायक प्रदेशिक संगठन आयुक्त रविंदर कौर सोढ़ी वाराणसी मंडल की उपस्थिति रही। समापन समारोह में रेंजर द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए और टेंट एवं पाक विद्या का भी प्रदर्शन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि द्वारा रेंजर के महत्व पर प्रकाश डालते हुए सेवा भावना की याद दिलाई गई और इसे निस्वार्थ भाव से कार्य करना चाहिए सहायक संगठन आयुक्त ने अपने व्यक्तित्व में कहा कि रेंजर का पाठ्यक्रम सभी छात्राओं के लिए आवश्यक है यह सम्मान में सेवा की भावना जागृत करता है। इस कार्यक्रम में डॉ मृदुला व्यास प्रभारी रेंजर लीडर रितेश मिश्रा रेंजर लीडर जाकिर हुसैन और कॉलेज के सभी अध्यापक उपस्थित रहे।