वाराणसी: मंडुवाडीह स्मार्ट स्टेशन पर पानी के लिए ‘नाच’ रहे रेलयात्री, 'मंत्री जी देख लीजिए' 

वाराणसी: मंडुवाडीह स्मार्ट स्टेशन पर पानी के लिए ‘नाच’ रहे रेलयात्री, 'मंत्री जी देख लीजिए' 

मंडुवाडीह के प्लेटफार्म नं.-5 पर नहीं है पानी की कोई व्यवस्था, नहीं है स्वाचालित सीढियां
काशी विश्वनाथ समेत बड़ी ट्रेनों को एक और आठ के बजाय प्लेटफार्म नं. पांच पर आने से यात्रियों को परेशानी

वाराणसी(रणभेरी):  जनपद के स्मार्ट स्टेशनों में शुमार मंडुवाडीह स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच पर पानी के लिए यात्रियों को 'नाचना' यानि काफी भागदौड़ करनी पड़ रही है। इस प्लेटफार्म पर पानी का एक भी नल चालू नहीं है। पानी की टंकी लगी है पर टोटी नहीं लगा है, जिससे पानी नहीं मिल पा रहा है।

प्लेटफार्म नंबर एक और आठ से चलने वाली काशी विश्वनाथ समेत बड़ी ट्रेनों को प्लेटफार्म नंबर पांच पर स्थानांतरित किये जाने से यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में ट्रेन से आने-जाने वाले योत्रियों को पानी के लिए दूसरे प्लेटफार्म पर आना जाना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा दिक्कत वृद्ध और अशक्त यात्रियों को हो रही है।

इस प्लेटफार्म पर स्वाचालित सीढियां भी नहीं है जिसके वजह से वृद्ध यात्रियों को सीढ़ी चढ़कर काफी मुश्किल से पानी के लिए दूसरे प्लेटफार्म पर जाना पड़ रहा है। मंगलवार को इस समस्या को लेकर यात्री संजय यादव, सुजाता सिंह, शकुंतला सिंह आदि ने आवाज उठाया और रेलवे के अधिकारियों से शिकायत की। यात्रियों का कहना था कि जब प्लेटफॉर्म पर पानी और अन्य यात्री सुविधाओं की व्यवस्था है हीं नही है तो फिर ट्रेन स्थानांतरित किया जाना समझ से परे है। 

रेलमंत्री को ट्वीट कर की शिकायत:
नगर के समाजसेवी वरुण सिंह ने मंडुवाडीह स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच की इस समस्या को लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल को ट्वीट किया। बिना टोटी के पानी के नलों के तस्वीर के साथ किए गए ट्वीट में वरुण ने लिखा कि आदरणीय रेलमंत्री जी, यह मंडुवाडीह के पांच नंबर प्लेटफार्म की फोटो है। काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस को 8 नंबर की जगह 5 नंबर से चलाया जा रहा है। 5 नंबर प्लेटफार्म पर यात्री सुविधाएं गायब हैं। न पानी है, न वृद्धों के लिए स्वचालित सीढी। कृपया नजर डालिए।