वाराणसी: चौकाघाट-लहरतारा फ्लाई ओवर निर्माण में हुआ हादसा, राहगीरों पर गिरा खौलता अलकतरा

वाराणसी(रणभेरी): पहले भी हादसे का सबब बन चुका चौकाघाट-लहरतारा फ्लाई ओवर अब पूरा होने के कगार पर है मगर काम में तेजी के साथ लापरवाही और हादसों का क्रम भी बरकरार है। इसी कड़ी में सेतु निगम की लापरवाही से चौकाघाट-लहरतारा फ्लाई ओवर के नीचे एक बार फिर राहगीरों की जान पर बन आई।

बुधवार रात नौ बजे पैचवर्क के दौरान फ्लाई ओवर के नीचे से गुजर रहे बालक समेत दो राहगीर झुलस गए। कर्मचारियों के मनमाने रवैये के चलते राहगीरों के ऊपर खौलता हुआ अलकतरा गिर गया। घायलों की चीख-पुकार सुनकर तमाशबीनों की भीड़ जमा हो गई, लेकिन उन्हें चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराने के लिए कोई आगे नहीं आया। दोनों वहां से लौट गए।

हुआ यह कि छित्तूपुर स्थित घोषियाना बस्ती निवासी मुमताज का पुत्र वसीम (14 वर्ष) फुलवरिया से दूध लेकर घर लौट रहा था। फ्लाई ओवर के पीलर संख्या-53 के नीचे उसकेऊपर खौलता हुआ अलकतरा गिर पड़ा। चीखते हुए वह सड़क पर ही गिर गया। इतने में उधर से गुजर रहे पहाड़िया निवासी चाय विक्रेता सुमन पर खौलता अलकतरा गिरने से उसकी चीख निकल पड़ी। दोनों की गर्दन बुरी तरह से झुलस गई। चीख-पुकार सुनकर भीड़ एकत्र हो गई। हालांकि उपचार के लिए कोई आगे नहीं आया। 15 मिनट तक चले घटनाक्रम के बाद दोनों घर लौट गए। राहगीरों के झुलसने की घटना के घंटों  बाद तक सेतु निगम का कोई भी जिम्मेदार अफसर नहीं दिखा।