वायरल फोटो: घाटों पर रौब दिखाने वाला दरोगा हुआ लाइन हाजिर

वायरल फोटो: घाटों पर रौब दिखाने वाला दरोगा हुआ लाइन हाजिर

वाराणसी (रणभेरी): वाराणसी में गंगा घाटों पर घूम रहे लोगों पर लाठी बरसाते हुए एक बार फिर से भेलूपुर थाने के अस्सी चौकी पुलिस की बर्बरता सामने आई है। अस्सी चौकी पर तैनात एसआई सनी निषाद की पाइप से कुछ युवकों को मारते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई है। इस मामले की जांच सहायक पुलिस आयुक्त भेलूपुर को सौंपी गई है। डीसीपी काशी जोन अमित कुमार ने ट्वीट करके यह जानकारी दी।

गुरुवार की शाम मौसम सुहाना हुआ तो घाट किनारे रहने वाले कुछ युवक मास्क लगाते हुए गंगा की लहरों को निहारने पहुंच गए थे। युवकों का आरोप था कि दारोगा सनी निषाद ने उन्हें समझाने के बजाय प्लास्टिक की पाइप से मारना पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद दारोगा की युवकों को मारते पीटते की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। 

इसके पूर्व अस्सी चौकी पर तैनात एसआई गौरव उपाध्याय की अस्सी घाट पर युवकों को लाठी से पीटते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी तो उस समय पुलिस की खूब किरकिरी हुई थी। चक्रवाती तूफान यास के असर से गुरुवार शाम मौसम सुहाना होने के बाद कुछ युवा अस्सी घाट पर घूमने के लिए पहुंचे। युवकों का आरोप है कि तभी कोरोना प्रोटोकॉल का हवाला देकर उप निरीक्षक सनी निषाद ने प्लास्टिक की पाइप से मारना शुरू कर दिया।

युवकों का आरोप था कि मास्क और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए घाट पर पहुंचे थे। निवेदन भी किया गया कि बस जा रहे हैं उसके बाद भी पुलिसिया रौब दिखाते हुए दरोगा ने डंडे लगा दिए। बताया जाता है कि पूर्व में भी सनी निषाद का खोजवा चौकी पर रहते हुए एक युवती से बर्बरता की बात सामने आई थी। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने आदेश दिया है कि रोजाना शाम चार बजे से अगले दिन की सुबह छह बजे तक आमजन गंगा घाटों की ओर नहीं जाएंगे।