धारदार हथियार से वार कर युवक को उतारा मौत के घाट, हत्यारों के तलाश में जुटी पुलिस

धारदार हथियार से वार कर युवक को उतारा मौत के घाट, हत्यारों के तलाश में जुटी पुलिस

वाराणसी (रणभेरी): वाराणसी के जंसा थाना क्षेत्र के नैपुरा गांव में शुक्रवार दोपहर मनोज यादव के हत्या के मामले की जांच में पुलिस जुट गई है। पुलिस साक्ष्यों को जुटाने में लगी है ताकि हत्यारों का जल्द से जल्द पता चल सके। बता दें कि शुक्रवार दोपहर  मनोज यादव की किसी धारदार हथियार से कनपटी पर वार कर हत्या कर दी गई थी। कुर्सी पर बैठे युवक को दाहिने कनपटी पर वार कर मौत के घाट उतरा गया। फोरेंसिक टीम और जंसा पुलिस को मृतक की जेब से 315 बोर का कारतूस बरामद हुआ था। किसी करीबी पर ही हत्या को अंजाम देने का शक है।

हमलावरों की तलाश में पुलिस की दो टीमें गठित की गई हैं। जंसा पुलिस दो संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। जंसा थाना अंतर्गत नैपुरा निवासी सपा नेता बृजेश मिश्रा की गांव में डेयरी है। भदोही जिले के ज्ञानपुर कोतवाली अंतर्गत गिरधपुर निवासी मनोज कुमार यादव (30 वर्ष) पिछले पांच साल से बृजेश की डेयरी पर रह रहा था। कोरोना काल में डेयरी बंद हो गई थी, फिर भी मनोज डेयरी पर उठता बैठता था और बृजेश मिश्रा का अन्य काम देखता था। दोपहर एक बजे बृजेश मिश्रा का रिश्तेदार शुभम मिश्रा डेयरी पर पहुंचा तो टीनशेड के अंदर कुर्सी पर लहूलुहान हाल में मनोज को देखते ही चीख उठा। मनोज की दाहिने कनपटी पर गहरे धारदार हथियार से वार किया गया था। शुभम की सूचना पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक, डाग स्क्वायड ने छानबीन करते हुए साक्ष्य संकलन किया। इस दौरान मनोज की जेब से 315 बोर का एक कारतूस और पास में ही शराब की खाली बोतलें बरामद हुई। 

जेब से मिला कारतूस

मनोज यादव की जेब से 315 बोर का कारतूस मिलने पर एसपी ग्रामीण ने भदोही पुलिस से संपर्क साधकर आपराधिक इतिहास को भी खंगालने पर जोर दिया। एसपी ग्रामीण के अनुसार जेब से कारतूस पाए जाने से यह प्रतीत होता है कि मनोज का अपराधियों से कहीं न कहीं तार जुड़े हो सकते हैं। जिस तरीके से मनोज की हत्या की गई, उससे अंदाजा लगाया गया कि किसी करीबी ने ही वारदात को अंजाम दिया। हत्या करने वाला मनोज के विश्वास में था। कुर्सी पर मनोज और सामने बिस्तर पर हमलावर बैठा था। पुलिस की तफ्तीश में सामने आया कि एक से अधिक हमलावर हो सकते हैं। पुलिस जमीन विवाद और आशनाई को भी हत्या से जोड़कर देख रही है।