जाने अंतरिक्ष से दिखाई देने वाले जंगल के बारे में

जाने अंतरिक्ष से दिखाई देने वाले जंगल के बारे में

(रणभेरी): जंगल की बात करें तो जंगल हरे-भरे पेड़ पौधो के नाम से जाना जाता है। लेकिन आपको बता दे अमेरिका में एक ऐसा जंगल है जहां पेड़ पर पत्तियां नहीं है। इसकी जगह बेरंग और सूखी टहनियां हैं। इस जंगल के पेड़ो के तने सूखे और ग्रे रंग के है, न पेड़ों पर शाखाऐं है न ही पत्तियां है। ऐसे में जंगल वीरान बन गया है। इस डरावने जंगल में सैकड़ों ऐसे पेड़ हैं जो मुर्दा हैं। इनमें जीवन नहीं है पर ये फैलता ही जा रहा है।

अमेरिका के दक्षिण-पूर्व में स्थित राज्य उत्तरी कैरोलिना के तटों पर ये जंगल भुतहा की तरह दिखने लगा है और विकराल रूप धारण कर लिया है। हालत ये है कि काफी बडे इस जंगल का नज़ारा अंतरिक्ष से भी दिखाई देता है। Environmentalist इसे पर्यावरण परिवर्तन का नतीजा मान रहे हैं। इस जंगल में हजारों सूखे, निर्जीव, बिना शाखाओं वाले पेड़ हैं। आपको बता दें कि ये 'भुतहा जंगल' का कब्ज़ा पिछले तीन दशकों में हुआ है।

इस जंगल को देखते हुए शोधकर्ता एमिली ऊरी ने कहा कि ऐसा समुद्री जलस्तर के बढ़ने की वजह से हो रहा है। इसकी वजह से ढेर सारा समुद्री नमकीन पानी एलिगेटर रिवर नेशनल वाइल्डलाइफ के पेड़ों तक पहुंच रहा है। जिसकी वजह से जमीन और बीजों को नमक ज्यादा मिल रहा है जिसके कारण पेड़ इस तरह का रूप ले रहे हैं।

शोधकर्ता एमिली ने बताया कि समुद्री जलस्तर बढ़ने के अलावा भी इंसानों द्वारा समुद्र में फेंके जा रहे गटर के पानी की वजह से भी जंगलो की यह हालत हुई है। इसके अलावा 2011 में आए हरिकेन इरीन ने भी बड़े पैमाने पर यहां तबाही मचाई थी। इस तूफान के समय समुद्र से 6 फीट ऊंची लहरें उठी थीं, जिसकी वजह से जंगल के अंदर 2 किलोमीटर तक बाढ़ आ गई थी।

कोलंबिया यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर जैकी ऑस्टरमैन ने कहा कि तूफान जैसी समस्याओं की वजह से समुद्र का जलस्तर बढ़ जाता है। जिसकी वजह से जंगलों को दिक्कत होती है। इंसानों को यह सारी दिक्कतें समझनी चाहिए। हम सभी को पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करना जरूरी है।