इलाज में लापरवाही का आरोप, मृतक के परिजनो ने किया हंगामा

इलाज में लापरवाही का आरोप, मृतक के परिजनो ने किया हंगामा

वाराणसी (रणभेरी): रोहनिया-भदवर स्थित हेरिटेज इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस हॉस्पिटल में इलाज के दौरान कोविड मरीज के मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने डाक्टरो के द्वारा इलाज में लापरवाही का आरोप लगाकर घण्टो हॉस्पिटल परिसर में हंगामा किया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक लंका थाना क्षेत्र के नरोत्तमपुर निवासी 33 वर्षीय चन्द्र कुमार सिंह बीते 14 अप्रैल को हॉस्पिटल में इलाज के लिए आये थे जहाँ इलाज व जाँच के बाद उनका रिपोर्ट कोविड-19 के तहत पॉजिटिव आया था उसके बाद उन्हें वहाँ इलाज हेतु भर्ती कराया गया था।गुरुवार देर शाम परिजन को जब मरीज का कोई हाल समाचार हॉस्पिटल प्रबंधन व डॉक्टर द्वारा नही दी गयी और चन्द्र कुमार का मोबाईल घण्टो स्विच ऑफ आना शुरू हुआ तो परिजनों में भय का माहौल हो गया।आनन फानन में परिजन हॉस्पिटल पहुच डॉक्टर से वार्तालाप कर जानकारी लेने का कार्य किये तो डॉक्टर आशुतोष ने बताया कि चन्द्र कुमार का हार्ट अटैक के दौरान मौत हो गयी।

मौत की खबर लगते ही आक्रोशित परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाकर हॉस्पिटल में हंगामा करना शुरू कर दिए हंगामा होने की सूचना लगते ही रोहनिया पुलिस मौके पर पहुँच मामला शान्त कराई और विधि विरुद्ध कार्यवाही की बात कही।वही मृतक के परिजन अमित सिंह का कहना रहा कि 14 अप्रैल से लेकर आज 29 अप्रैल तक कुल 3 लाख 31 हजार रुपया हॉस्पिटल के कैश काउंटर पर जमा कर इलाज कराया जा रहा था उसके बाद भी हॉस्पिटल प्रबंधन द्वारा मरीज के स्वस्थ या अस्वस्थ होने या मौत की कोई जानकारी नही दी गयी आज देर शाम जब हम लोग आकर डॉक्टर आशुतोष से बात किये तो वह हार्ट अटैक से मौत होने की जानकारी दी,कल देर रात मरीज स्वस्थ होने की बात कहकर 1 लाख रुपया जमा कराया गया था तो कैसे आज मरीज की मौत हो गयी वही डॉक्टर सिद्दकी का कहना है कि ऑक्सीजन के कारण मौत हुई है अब किसकी बात मानी जाय डॉक्टर आशुतोष की या डॉक्टर सिद्दकी की हम लोगो की माँग है कि अब जो होना था वह हो गयी बस मरीज के इलाज की पूरी सीसीटीवी फुटेज सार्वजनिक कर दिया जाय जिससे हम लोगो को यह पता चल सके कि आखिर मौत किस कारण हुई है।

वही इस मामले में मोहनसराय चौकी प्रभारी इमरान खान मौके पर पहुँच मामला शांत कराया और जांचोपरांत आवश्यक कार्यवाही की बात कही।लापरवाही से मरीज के मौत के मामले में हॉस्पिटल प्रबंधन व डॉक्टर से पूछे जाने पर कोई कुछ बताने को तैयार नही था सब हीलाहवाली का पाठ पढ़ाते नजर आए।परिजन जिलाधिकारी व सीएमओ को मौके पर आने की माँग कर हॉस्पिटल परिसर हंगामा किया