Account suspended: कंगना बंगाल हिंसा पर बोलते हुए कैमरे के सामने रो पड़ीं

Account suspended: कंगना बंगाल हिंसा पर बोलते हुए कैमरे के सामने रो पड़ीं

(रणभेरी): अपने बयानों और विवादों की वजह से चर्चा में रहने वालीं कंगना रनौत का Twitter account मंगलवार को suspended कर दिया गया है। उनपर ट्विटर के नियमों का पालन न करने का आरोप है। 

बता दें कंगना पिछले तीन दिनों से अपने विवादित ट्वीट्स की वजह से चर्चा में है। बीते रोज ऑक्सीजन पर किए गए ट्वीट की वजह से social media पर उन्हें जमकर ट्रोल किया गया था। साथ ही Bengal election परिणाम में ममता बनर्जी पर की गई टिप्पणी के बाद कंगना के ट्विटर अकाउंट पर ताला लगा दिया गया है। कंगना ने ट्वीट कर ममता बनर्जी के ल‍िए आपत्त‍िजनक शब्द का इस्तेमाल किया था. इसके बाद से ही यूजर्स कंगना को बुरा-भला कह रहे थे। अब ऑफिश‍ियल तौर पर कंगना का ट्व‍िटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। 

कंगना ने कहा कि राज्य में लोगों की हत्या हो रही है और इस पर कोई कुछ बोल नहीं रहा है। उन्होंने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की। कंगना कहती हैं कि ‘हम सब देख रहे हैं कि बंगाल से बहुत सी डिस्टर्ब करने वाली खबरें आ रही हैं। वीडियो और फोटोज आ रहे हैं। खुलेआम लोगों की हत्या हो रही है, गैंगरेप हो रहा है। घरों को जलाया जा रहा है और कोई भी लिबरल कुछ नहीं कह रहा है।

कंगना आगे कहती हैं कि ‘क्या हिंदू खून इतना सस्ता है? आखिर इनकी साजिश क्या है? क्योंकि यह बहुत ही अननैचुरल हैं जो सबकुछ हो रहा है। और मैं अपनी सरकार से बहुत निराश हूं, जिनकी मैं बहुत बड़ी समर्थक हूं। जो वहां पे खून की नदिया बह रही हैं तो आप लोग धरना करना चाहते हैं। कड़ी निंदा करना चाहते हैं। क्यों डर रह हैं देशद्रोहियों से इतना? देशद्रोही अब देश चलाएंगे क्या? 

‘मुझे पता है वो बहुत शोर करते हैं। इंटरनेशनल दबाव है। हम बहुत बुरे तरीके से फंसे हुए हैं। लेकिन अब राष्ट्रपति शासन की जरूरत है, जवाहरलाल नेहरू ने 8 या 12 बार राष्ट्रपति शासन लगाया था, इंदिरा गांधी ने 50 बार लगाया था, मनमोहन सिंह ने 10-12 बार लगाया था। ये देश क्या देशद्रोही चलाएंगे। मैं सरकार से कहना चाहती हूं कि इसे जल्द से जल्द रोकिए और कड़ा कदम उठाइए।‘