वाराणसी: होम क्वारंटाइन की मुहर लगे यात्रियों को पकड़ने में छूट रहे स्टेशन डायरेक्टर के पसीने

वाराणसी: होम क्वारंटाइन की मुहर लगे यात्रियों को पकड़ने में छूट रहे स्टेशन डायरेक्टर के पसीने

वाराणसी(रणभेरी): मुंबई से बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुंचे कानपुर निवासी राजबहादुर व बहराइच निवासी मंसूर चुपचाप परिसर से बाहर निकले। वहां स्वास्थ्य टीम और सुरक्षा कर्मी नहीं पकड़ सके जबकि मुंबई में ही दोनों के हाथ पर होम क्वारंटाइन की मुहर लगी थी। एयरपोर्ट से दोनों रात नौ बजे कैंट रेलवे स्टेशन पहुंचे। प्लेटफार्म एक पर लखनऊ की ट्रेन का इंतजार करने लगे। जीआरपी को आशंका हुई। 

उन्होंने स्टेशन डायरेक्टर आनंद मोहन सिंह को अवगत कराया। उन्होंने चिकित्सकीय टीम भेजा और खुद भी मौके पर पहुंचे। जांच में हाथ पर लगी होम क्वारंटाइन की मुहर दिखी। स्टेशन पर हड़कंप मच गया। डायरेक्टर ने टोल फ्री नंबर के साथ ही एंबुलेंस को फोन कराया। सीएमओ को फोन कर अवगत कराया। घंटों मदद नहीं मिली तो कमिश्नर दीपक अग्रवाल को फोन किया। इसके बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची। दोनों को शिवपुर स्थित क्वारंटाइन वार्ड भेजा गया। 

वहीं सोमवार की भोर में महानगरी में भी मां के साथ आई गाजीपुर निवासी युवती जांच में कोरोना संदिग्ध मिली। अस्पताल तक भेजने में रेल प्रशासन को परेशानी हुई। बड़ा सवाल यह भी कि जब कैंट व मंडुआडीह स्टेशन पर क्वारंटाइन वार्ड बना है तो रेल प्रशासन स्वास्थ्य महकमे पर निर्भर क्यों।