वाराणसी: दुष्कर्मियों को सजा दिलाने सड़क पर उतरी छात्राएं, कहा- फांसी दे दो

भारत विकास परिषद काशी प्रान्त और कस्तूरबा बालिका इंटर कॉलेज के ओर से निकाली गयी रैली
वाराणसी (रणभेरी): भारत विकास परिषद काशी प्रान्त के विभिन्न शाखाओं से दो सौ से ज्यादा सदस्य एवं कस्तूरबा बालिका इंटर कॉलेज अर्दली बाजार की सैकड़ों छात्राओं ने बुधवार को देश में जगह-जगह हो रहे जघन्य दुष्कर्म एवं हत्याकांड का विरोध करते हुए कस्तूरबा स्कूल से पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल तक बांह पर काली पट्टी बांधकर शांतिपूर्ण रैली निकाला। छात्राओं द्वारा 'महिलाओं का उत्पीडन बंद करो', 'दोषियों को अविलम्ब फांसी दो', 'बलात्कारियों को सजा दो' जैसे तख्ती लेकर विरोध-प्रदर्शन कर रही थीं। इस दौरान रैली में महिलाओं की भागीदारी खूब रही।

भारत विकास परिषद काशी प्रान्त के महासचिव अवनीश अग्रवाल ने कहा कि संस्कार जागृत करने के लिए परिषद् सदैव ह्यगुरु वंदन छात्र अभिनन्दनह्ण, भक्ति गीतों की ह्यसमूह गान प्रतियोगिता, ज्ञान आधारित 'भारत जानो प्रतियोगिता, बाल संस्कार शिविर, चिकित्सा शिविर जैसे कार्यक्रम करती रहती है। इन सबके बावजूद समाज में दुष्कर्म एवं निर्मम हत्या ऐसी घटनाये होना मानवीय चरित्र हनन की प्रदर्शित करता है। रैली में में डॉ. शिप्रा श्रीवास्तव, डॉ. मनोज श्रीवास्तव, ब्रहमानंद पेशवानी, रवि प्रकाश, विजय त्रिपाठी, अवनीश अग्रवाल, शशि श्रीवास्तव, विवेक सुद समेत अन्य समाजसेवी मौजूद रहे।