वाराणसी: महिला दिवस पर नेशनल प्रदर्शनी में बनारस की शाहिना ने किया यूपी का प्रतिनिधित्व

वाराणसी: महिला दिवस पर नेशनल प्रदर्शनी में बनारस की शाहिना ने किया यूपी का प्रतिनिधित्व

टेक्सटाइल्स मेले के लिए पूरे प्रदेश में बनारस के बजरडीहा हथकघा कलस्टर विकास संस्थान का हुआ चुनाव
मेले में आए ग्राहकों ने बजरडीहा के बुनकरों और बनारसी कारीगरी की मुक्तकंठ से की प्रशंसा

वाराणसी(रणभेरी): महिला दिवस के अवसर पर भारत सरकार के टेक्सटाइल मिनिस्ट्री की ओर से दिल्ली के जीमखाना क्लब में चार दिवसीय नेशनल हैंडीक्राफ्ट हैंडलूम टैक्सटाइल्स प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी में पूरे उत्तर प्रदेश से बनारस के बजरडीहा हथकरघा कलस्टर विकास संस्थान को चुना गया है और इसकी सदस्य शहिना बीबी अपने पति अब्दुल हलीम और कलस्टर के अध्यक्ष बुनकर नेता मो. स्वालेह अंसारी के साथ इस प्रदर्शनी में बनारस का प्रतिनिधित्व कर रही हैं। 

इस हैंडलूम मेले में बजरडीहा हथकरघा कलस्टर को एक स्टॉल भी आंवटित किया गया है जहां बुनकर नेता मो. स्वालेह अंसारी के नेतृत्व में शाहिना बीबी और उनके पति ने बनारसी हस्तकला और हथकरघा के अनूठे उत्पादों, साड़ियों से लोगों को रू-ब-रू कराने का काम किया। लोगों ने मुक्तकंठ से बनारसी कारिगिरी की सराहना की। यह बनारस के लिए काफी हर्ष का विषय है कि यहां के बजरडीहा कलस्टर को पूरे उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधित्व के रूप में चुना गया है। 

इस प्रदर्शनी का उद्घाटन कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने किया था। यह प्रदर्शनी 5 मार्च से शुरू हुई थी जो महिला दिवस पर 8 मार्च तक चली। जिमखाना क्लब में हैंडीक्राफ्ट हैंडलूम टेक्स टाइल्स के काफी आकर्षक स्टाल लगाए गए थे। यह प्रदर्शनी केवल विशिष्ठ लोगों के लिए ही लगाई गई यहां केवल क्लब से जुड़े सदस्य ही प्रवेश कर सकते हैं। इस प्रदर्शनी में पूरे देश के महिला कारिगरों को आमंत्रित किया गया है। 

हमारी बातचीत में बजरडीहा हथकरघा कलस्टर के अध्यक्ष मो. स्वालेह अंसारी ने बताया कि सरकार ने पूरे उत्तर प्रदेश में बनारस के बजरडीहा हथकरघा कलस्टर को प्रदर्शनी के लिए चुनकर हमारा मनोबल बढाने का काम किया है हम आगे और मनोबल से काम करेंगे और बनारस का नाम रोशन करेंगे। वाराणसी बजरडीहा हथकरघा कलस्टर विकास संस्थान के अध्यक्ष मोहम्मद स्वालेह अन्सारी आवंटित किए गए स्टाल पर बनारस के बुनकर शकील अहमद, मोहम्मद हलीम अन्सारी, शाहिना बीवी जुल्फिकार आलम आदि लोग उपस्थित रहे।