वाराणसी: आईआईटी बीएचयू में प्रदर्शन और नारेबाजी, निदेशक की बात भी सुनने को नहीं तैयार

वाराणसी: आईआईटी बीएचयू में प्रदर्शन और नारेबाजी, निदेशक की बात भी सुनने को नहीं तैयार

वाराणसी(रणभेरी): काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के भारतीय प्रोद्यौगिक संस्थान,बीएचयू आईआईटी के गैर शिक्षण कर्मचारियों ने सोमवार को पांच सूत्रीय मांगो के समर्थन में परिसर में धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान धरना में शामिल कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

वहीं कर्मचारियों के प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही संस्थान के निदेशक प्रो. पीके जैन धरनास्थल पर पहुंचे और कर्मचारियों को समझाने का प्रयास करने लगे लेकिन अपनी मांगो को लेकर आक्रोशित कर्मचारी उनकी बातो को सुनने को तैयार नहीं थे।

कर्मचारी संस्थान के इंचार्ज प्रो.वाईसी शर्मा को हटाने, कर्मचारियों के प्रमोशन पालिसी, आवास सम्बंधी कार्य की जानकारी देने, कर्मचारियों का फोरम तत्काल बहाल करने, कर्मचारियों को एनओसी और लियन नियमानुसार देने की मांग करते रहे। उन्होंने चेतवानी देते हुए कहा कि अगर हमारी मांगें पूरी नहीं की गई तो हम बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। धरना प्रदर्शन में काफी संख्या में कर्मचारी शामिल थे।