वाराणसी: सो रहे थे दो नाबालिग भाई और किसी ने धारदार हथियार से किया प्रहार और हो गई मौत

वाराणसी: सो रहे थे दो नाबालिग भाई और किसी ने धारदार हथियार से किया प्रहार और हो गई मौत

एसएसपी और नगर के आला पुलिस अधिकारी तफ्तीश में जुटे, गांव में पसरा मातम

वाराणसी (रणभेरी): चौबेपुर थाना क्षेत्र के मुरीदपुर में दर्दनाक घटना सामने आई है। घर में सो रहे दो नाबालिग बच्चों को धारदार हथियार से गोदकर प्राणघातक हमला किया गया है। उपचार के दौरान एक की मौत हो गई है, जबकि दूसरा बच्चे की हालत गम्भीर बताई जा रही है, जिसका इलाज बीएचयू के ट्रामा सेंटर में चल रहा है।

यह भी पढ़ें: भ्रष्टाचार की हद या सत्ता का मद, भाजपा नेताओं द्वारा बांटे जा रहे पद

मिली जानकारी के अनुसार मुरीदपुर गांव निवसी जयप्रकाश के दो नाबालिक पुत्रों 17 वर्षीय अमन उर्फ सूरज और  14  वर्षीय शुभम उर्फ बादल के साथ यह घटना घटी है। यह घटना शनिवार की भोर करीब 4 बजे दो लड़के अपने नवनिर्मित मकान के भीतर बिना दरवाजे के कमरें में सो रहे थे। परिजनों को इसकी जनकारी तब हुई, जब रोज की भांति बच्चों को दौड़ने के लिए उनकी दादी कमरे में उन्हें जगाने गई। दोनों बच्चों को खून से लथपथ देख उनके होश उड़ गए। परिजनों ने जैसे इसकी सूचना पुलिस को दी, हड़कम्प मच गया। ग्राम प्रधान मुरीदपुर शैलेन्द्र चौबे ने बताया कि मैं जयप्रकाश का पड़ोसी भी हूं, जयप्रकाश का किसी से विवाद नही था, करीब 20 दिन पहले बच्चों का छोटा विवाद हुआ था।

यह भी पढ़ें: पाप की कमाई का काला सूत्रधार, परिवहन विभाग को बनाया कारोबार!

सूचना मिलते ही मौके पर एसएसपी अमित पाठक एसपीआरए मार्तण्ड प्रताप सिंह सहित आलाधिकारी पहुंच गए। जांच-पड़ताल के साथ ही परिजनों से बात करके हत्या की वजह को तलाशा जा रहा है। एसएसपी ने जल्द ही मामले का खुलासा करने का निर्देश दिया। एसपी ग्रामीण (एसपीआरए) मार्तण्ड प्रताप सिंह ने खुद इस घटना को जल्द खुलासा करने में लग गए है। वहीं इस सम्बंध में एसपी ग्रामीण ने बताया कि कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इस घटना में तफ्तीश व गिरफ्तारी के लिए पुलिस की आठ टीमें लगी है।