वाराणसी: संजोई गौशाले में गायों की मौत पर बोले जिलाधिकारी, दोषियों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

वाराणसी(रणभेरी): अस्थाई पशु आश्रय केंद्रों में निरुद्ध गायों के लिए पिछले कई दिनों से चल रही भीषण शीतलहर जानलेवा बन गई है। ठंड से बचाव की व्यवस्थाएं न होने और खुले आसमान तले रखी गईं गायों की रोजाना मौतें हो रही हैं। जिले के जंसा थाना क्षेत्र के संजोई स्थित एक गोशाला में बंद 10-11 लावारिस गायों की कथित तौर पर ठंड से मौत होने का ताजा मामला सामना आया है। 

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बेजुबानों की मौत की जानकारी होने पर संबंधित विभाग के अधिकारी से जांच कराने की बात कर रहे हैं तो वहीं एसडीएम राजातालाब ने भी कार्रवाई के नाम पर जांच कराने की बात कहकर मामले से पल्ला झाड़ने की कोशिश कर रहे है। 

अस्थाई गोशाला चल रहा है रामभरोसे:

जंसा क्षेत्र के सजोई गांव में बना अस्थाई गोशाला रामभरोसे चल रहा है। इस कड़कड़ाती ठंड में गोवंश के लिए कोई व्यवस्था गोशाला में नहीं है। इस भीषण ठंड में गोवंश खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर है। इनके शरीर को ढकने के लिए बोरे तक का इंतजाम नहीं किया गया है। साथ ही इनके खाने-पीने की भी उचित व्यवस्था नहीं है। क्षेत्रीय लोगो का कहना है कि चारे के  नाम पर इनको सूखा भूसा ही खिलाया जा रहा है।