वाराणसी: कोरोना वायरस से बनारस में पहली मौत, कई इलाके सील

वाराणसी: कोरोना वायरस से बनारस में पहली मौत, कई इलाके सील

वाराणसी(रणभेरी): देश भर में कोरोना वायरस का दहशत बड़ी तेजी से फैल रहा है। इसी बीच वाराणसी में एक व्यक्ति की कोरोना के कारण मौत होने की सूचना मिली है। यह वाराणसी ही नहीं पूरे पूर्वांचल में कोरोना से पहली मौत है। शुक्रवार को कोरोना वार्ड में भर्ती गंगापुर के एक व्यापारी की हालत बिगड़ने पर आईसीयू में भर्ती किया गया था। जांच रिपोर्ट आने से पहले ही व्यापारी ने दम तोड़ दिया। रविवार की सुबह रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही हड़कंप मच गया।

गंगापुर स्थित उसके मुहल्ले को सील करते हुए लोगों की आवाजाही रोक दी गई है। पूरे इलाके को सील करते हुए सेनेटाइज करने की तैयारी की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की टीम व्यापारी के परिवार और मिलने-जुलने वालों का भी सैंपल लेने की तैयारी कर रही है। जिस आईसीयू में व्यापारी को भर्ती किया गया था अब उसे भी सेनेटाइज किया जा रहा है। व्यापारी 15 मार्च को कोलकाता से लौटा था। वह पहले से मधुमेह और उच्च रक्तचाप से भी पीड़ित था। वहीं, हज से लौटी एक महिला भी संक्रमित पाई गई है। यह बजरडीहा की है। पति के साथ दिल्ली से ट्रेन से बनारस आई थी। पति निगेटिव है।

बीएचयू के सर सुंदरलाल अस्पताल की इमरजेंसी में गुरुवार को बुखार की शिकायत पर गंगापुर के 55 वर्षीय व्यापारी और 59 साल की महिला को कोरोना जांच के लिए लाया गया था। यहां दोनों के स्वाब (लार) का नमूना लेकर कोरोना प्राथमिक वार्ड में भर्ती कर लिया गया। अगले दिन शुक्रवार को हालत बिगड़ने में दोनों को आईसीयू में लाया गया। यहां दोनों ने दम तोड़ दिया। तब तक दोनों की कोरोना रिपोर्ट नहीं आ सकी थी। शवों को भी सुरक्षित रखवा दिया गया। विश्वविद्यालय और अस्पताल प्रशासन ने मौत का कारण मल्टी आर्गन फेल्योर बताया।

शनिवार शाम महिला की रिपोर्ट निगेटिव आने पर उसका शव परिवार वालों को दे दिया गया लेकिन व्यापारी की रिपोर्ट नहीं आने से शव अस्पताल में ही रहा। रविवार की सुबह व्यापारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर हड़कंप मच गया। सबसे पहले उसके घर और आसपास की गलियों को सील करने की कवायद शुरू हुई। फोर्स भेजकर आसपास खुली दुकानों को भी बंद करा दिया गया और लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी गई। विश्वविद्यालय प्रशासन के लिए अब सबसे बड़ी मुश्किल आईसीयू की सफाई है। व्यापारी ने जिस आईसीयू में दम तोड़ा उसमें आम मरीजों को भी रखा जाता है। अब पूरे आईसीयू को सेनेटाइज किया जा रहा है।

पूर्वांचल में 18 कोरोना वायरस के मामले

पूर्वांचल में कोरोना वायरस के अब तक 18 मामले सामने आ चुके हैं। आज वाराणसी और गाजीपुर में दो-दो नए मामले सामने आए हैं। इसमें एक 55 वर्षीय शख्स की मौत हो तीन अप्रैल को हो गई थी, जिसकी रविवार को कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। शनिवार को मिर्जापुर-गाजीपुर में दो मामले सामने आए। शुक्रवार को वाराणसी में तीन नए मामले सामने आए और आजमगढ़ में भी तीन नए कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज मिले।