वाराणसी: जिलाधिकारी ने क्षय रोग ग्रसित 8 वर्ष के बच्चे को लिया गोद

वाराणसी: जिलाधिकारी ने क्षय रोग ग्रसित 8 वर्ष के बच्चे को लिया गोद

आयुष के घर पहुंचकर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भेंट किया मौसमी फल

वाराणसी(रणभेरी): प्रधानमंत्री के 2020 तक टीवी मुक्त भारत के निर्माण के आह्वान को मुहिम बनाते हुए उनके संसदीय क्षेत्र में जिलाधिकारी समेत पांच सौ संस्थाओं ने 18 वर्ष से कम उम्र के क्षय रोग से ग्रसित बच्चों को गोद लिया है। इसी क्रम में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने क्षय रोग से ग्रसित आठ वर्ष के आयुष सिंह को गोद लिया है।

रविवार को मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. बीवी सिंह के साथ आयुष के अन्नपूर्णा नगर कॉलोनी स्थित घर पर पहुंचकर डीएम ने उसे मौसमी फल से भरी टोकरी भेंट की। अजय सिंह का पुत्र आयुष सिंह ट्यूबरकूलर एक्जीलरी लिम्फेडनाइटिस जिसे संक्षिप्त में एक्स्ट्रा पलम्यूनरी टीबी करते हैं का मरीज है। जिलाधिकारी ने इसके साथ परिजनों को दवाईयों के नियमित सेवन और खान-पान की पूरी जानकारी दी। जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने आयुष को 15 दिन के लिए नारंगी, गुड़, मूंगफली से बनी मिठाईयां देते हुए बताया कि दवा के साथ-साथ मिठाईयां खिलाओं और नियमित दवा दो।

वहीं सीएमओं डॉ. बीवी सिंह ने बताया कि चिहिन्त बच्चों की सामाजित संगठनों, सीडीओ, सीएमओ, जिला विद्यालय निरीक्षक, रेड क्रास सोसाइटी, लायंस क्लब, रोटरी क्लब, उद्योग व्यापार मंडल और आइएमए ने गोद लिया है। रविवार को अधिकारियों ने पीड़ित बच्चों के घर पहुंचकर उन्हें मूंगफली, गुड़, चना, सत्तू और मौसमी फल भेंट किया है।