वाराणसी: पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने निकाला साईकिल जुलूस, पुलिस ने रोका तो किया धरना- प्रदर्शन

वाराणसी: पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने निकाला साईकिल जुलूस, पुलिस ने रोका तो किया धरना- प्रदर्शन

वाराणसी(रणभेरी): पेट्रोल व डीजल के दामों में हो रहे बेतहाशा वृद्धि के विरोध में सोमवार को टाउनहाल से जिला कांग्रेस के कार्यकर्ता साईकिल जुलुस निकाल रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें  जुलूस आगे बढ़ाने से रोक दिया। जिसके विरोध में कांग्रेसी कार्यकर्ता टाउनहाल में ही धरने पर बैठ गये।

कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं पूर्व मंत्री-विधायक अजय राय ने कहा कि जब भी कांग्रेस कोई प्रदर्शन करने जाती है तब पुलिस हमारी अवाज दबाना चाहती है। उन्होंने कहा कि आप हमें डिटेन तो कर सकते हैं लेकिन हमारी अवाज को दबा नहीं सकते। सरकार को बताना होगा कि पट्रोल-डीजल के दाम लगातार क्यों बढ़ रहे हैं। देश का नेतृत्व कोई लीडर नही बल्कि डीलर के हाथों में है जहां विश्व मार्केट में तेल की कीमत सस्ती है वही भारतीय बाजार में आमजनों के जेब पर यह सरकार डाका डाल कर उद्योगपति के झोले भरने का काम कर रही है इस कोरोना काल मे लोग अपना जीवनयापन सही से नही कर पा रहे है ऐसे में यह जनविरोधी सरकार ने अपने सारे हदों को पार करते हुए यह स्पष्ट कर दिया की आमजनों की पीड़ा से सरकार का लेनादेना नही है इस सरकार को भ्रष्टाचार के साथ अपने चुनिंदा उद्योगपतियो का जेब भरना ही प्राथमिकता है हम कांग्रेसजन इस जनविरोधी सरकार के खिलाफ इसी तरह मोर्चा खोलते रहेंगे सँघर्ष जारी रहेगा।

पूर्व सांसद राजेश मिश्रा ने कहा की यह सरकार पूरी तरह अब बेनकाब हो यही है सरकारी खजानों को खाली कर अब पेट्रोल-डीजल का मूल्य बढ़ाकर आमजनों को परेशान कर रही है इस सरकार कोई नियती साफ नही है झूठ व जुमलों की खोखली नीव पर यह सरकार टिकी है।

जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल व महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने कहा की पुलिस हमारा रास्ता रोक सकती है हमारे बुलन्द हौसलों को नही,सरकार हमपर मुकदमा करा सकती है पर हमारे कदमो को नही रोक सकती है जब जब आमजनों को पीड़ा होगी तब तब कांग्रेस जन सड़को पर रहेंगे क्योंकि हम सत्ता में नही सँघर्ष में आस्था रखने वाले लोग है जनता के लिए सड़क से लेकर सदन तक गूंजती आवाज के साथ लड़ाई इस जनविरोधी सरकार के ख़िलाफ़ जारी रहेगा।

साईकिल यात्रा के माध्यम से हुए विरोध प्रदर्शन में पूर्व मंत्री/विधायक  अजय राय,पूर्व सांसद राजेश मिश्रा,जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल,महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे,कांग्रेस सेवादल प्रदेश अध्यक्ष प्रमोद पाण्डेय,दुर्गाप्रसाद गुप्ता,मीरा तिवारी,ऋतु पाण्डेय,जितेन्द्र सेठ,फ़साहत हुसैन बाबू,मनीष मोरोलिया,साज़िद अंसारी,रमज़ान अली,वकाश अंसारी,गुलशन अली,अफरोज अंसारी, तुफैल अंसारी, अफजाल अंसारी,मणीन्द्र मिश्रा,चंचल शर्मा,विश्वनाथ कुँवर,मयंक चौबे,रोशनी जयसवाल,अशोक सिंह, संजीव सिंह,मनोज दृवेदी, जितेन्द्र श्रीवास्तव, रमेश कुमार,हसन मेहदी कब्बन,रोहित दुबे,ऋषभ पाण्डेय,रामसुधार मिश्रा,संजय चौबे,जितेंद्र श्रीवास्तव,किशन यादव,पूनम कुंडू,प्रमोद श्रीवास्तव,लालजी यादव,अनुभव राय,विवेक यादव,बबलू बिन्द, विनीत चौबे,सिद्धार्थ केशरी,हनुमंत चौबे,विनीत तिवारी,प्रमोद वर्मा,शुभम सिंह,राज जायसवाल,विकास पाण्डेय, निक्की,अश्वनी यादव,इम्तियाज अली समेत सैकडों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।