वाराणसी: खुलेआम चल रहा ऑनलाइन लॉटरी का काला धंधा, मूकदर्शक की भूमिका में पुलिस

वाराणसी: खुलेआम चल रहा ऑनलाइन लॉटरी का काला धंधा, मूकदर्शक की भूमिका में पुलिस

लल्लापुरा में हर रोज लोगों के हजारों रुपये का लग रहा चूना
शाम 7 बजे से 9 बजे तक लॉटरी खेलने के लिए जुटती है भीड़

वाराणसी(रणभेरी): लॉकडाउन की मार से एक ओर आम जनता का कारोबार, व्यापार और घर-बार चलाना दुस्वार हो गया है वहीं दूसरी ओर सिगरा थाना क्षेत्र के लल्लापुरा में खुलेआम ऑनलाइन लॉटरी का धंधा चलाया जा रहा है। ऑनलाइन लॉटरी के लालच में हर रोज लोगोें के हजारों रुपये का चूना लग रहा है, मोबाइल से खेले जा रहे इस लॉटरी से कई लोगों की जमापूंजी लूटी जा रही है बावजूद इसके स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी तक नहीं है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि यह गोरखधंधा आज से नहीं बल्कि महीनों से चल रहा है।

लल्लापुरा में एकरात की मस्जिद के पास रोजाना रात 8 बजे से 10 बजे तक इस लॉटरी को खेलाने और खेलने वालों की भीड़ जुटती है। ऑनलाइन लॉटरी से रोजाना 2-3 हजार रुपये की कमाई हो जाती है। यह लॉटरी जय लक्ष्मी नामक ऐप के माध्यम से खेलाई जाती है। जिसमें दिए गए एक मोबाइल नंबर पर फोन कर नंबर सेलेक्ट किया जाता है। नंबर सेलेक्ट करने के 5-10 मिनट बाद रिजल्ट आता है। 

हालांकि क्षेत्र में इस लॉटरी को खेलाने वाले कई लोग हैं पर सूत्रों की माने तो वर्तमान समय में क्षेत्र के रियाज और पप्पू नाम के दो लोग इस लॉटरी का धंधा कर रहे हैं। कभी-कभी तो दोपहर से ही ये लोग अपना धंधा शुरू कर देते हैं। लॉटरी खेलने के लिए मस्जिद के पास हमेशा लोगों की भीड़ जुटी रहती है। इनमें से ज्यादा लोग मास्क नहीं लगाए होते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग और सुरक्षा मानकों का तो कोई मतलब ही नहीं है।