वाराणसी: बार-बार की सड़क खोदाई से बाबा को मिलेगी मुक्ति, बन रही युक्ति

वाराणसी: बार-बार की सड़क खोदाई से बाबा को मिलेगी मुक्ति, बन रही युक्ति

कॉरिडोर में एक ही ट्रेंच में बिजली, पानी और सीवर

वाराणसी (रणभेरी)। बार-बार की सड़क खोदाई के झंझट से अब छुटकारा मिलने वाला है। कारण बाबा विश्वनाथ मंदिर ऐसी व्यवस्था की जा रही है जिसके तहत एक ही रास्ते से सभी लाइनें गुजरेंगी। इसके लिए ट्रेंच बनाया जाएगा। विश्वनाथ कॉरिडोर काशी में बिजली व अन्य लाइनों के लिए एक मॉडल बनेगा। कोई भी लाइन बिछाने के लिए अब सड़क खोदने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

काशी में खूब बढ़िया बनती है सड़क:

यहां कुछ दिन ही लोग नई एवं चिकनी सड़क का आनंद लेते हैं तब कि फिर से खोदाई भी शुरू हो जाती है। यानी आए दिन किसी न किसी मार्ग पर खोदाई चलती रहती है। कुप्रबंधन के कारण कभी बिजली विभाग अपनी लाइन डालने के लिए खोदता है तो कभी नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, दूरसंचार कंपनियों की भी इस करतूत से धूल-धक्कड़ उड़ती रहती है। इससे पर्यावरण तो बीमार होता ही है साथ ही यातायात की भी समस्या बढ़ती और धन का नुकसान होता है अलग।

विश्वनाथ धाम का विस्तार:

विश्वनाथ धाम लगभग 28 हजार वर्ग मीटर में विस्तारित हो रहा है। इसमें सारी सुविधाएं हाईटेक होंगी। इस परिक्षेत्र में मंदिर चौक, हाईटेक सभागार, रिसेप्शन, सुरक्षा कार्यालय, वैदिक केंद्र, यात्री सुवधिा केंद्र, टूरिज्म फैसिलेटेशन सेंटर, अतिथि गृह आदि की व्यवस्था होगी। साथ ही बिजली, पानी, सीवर सहित अन्य सभी एक ही ट्रेंच में डाली जाएगी। ताकि बार-बार सड़क खोदाई की जरूरत नहीं पड़ सके। नगरीय विद्युत वितरण मंडल प्रथम के अधीक्षण अभियंता विजय पाल के अनुसार विश्वनाथ कॉरिडोर में बिजली व्यवस्था हाईटेक बनाने के लिए प्रस्ताव बनाने का निर्देश दिया गया है।