वाराणसी: पत्नी की हत्या कर खुद थाने में पंहुचा पति, कहा- प्रेमी से कर रही थी बात, इसलिए...

वाराणसी: पत्नी की हत्या कर खुद थाने में पंहुचा पति, कहा- प्रेमी से कर रही थी बात, इसलिए...

कपसेठी के महिमापुर गांव की घटना, मौके पर पहुंचे एसएसपी व वरिष्ठ पुलिस अधिकारी

वाराणसी(रणभेरी): कपसेठी थाना क्षेत्र के महिमापुर गांव मे प्रेमी से बात करने से नाराज पति ने पत्नी की शुक्रवार की रात चारपाई पर सोते समय गला दबा कर हत्या कर दिया। हत्या करने के बाद खुद थाने पहुंचकर घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कपसेठी थाना के महिमापुर गांव में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी और ग्रामीण पुलिस अधीक्षक मार्तण्ड प्रकाश सिंह भी शनिवार की दोपहर घटनास्थल पर पहुंचे और निरीक्षण किया।

बताया जाता है कि संतोष कुमार जायसवाल महिमापुर गांव का निवासी है। वह मजदूरी करता है जब कि पत्नी परचून की छोटी दुकान कर परिवार का भरण-पोषण करते थे। संतोष की शादी 2007 में ग्राम धनुआ रामपुर जनपद जौनपुर निवासी गुलाब की पुत्री सोनम जायसवाल के साथ हुयी थी। दोनों से तीन संताने भी हैं। सोनम जायसवाल का किसी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। जिससे वह आये दिन बात करती रहती थी। इसी को लेकर पति और पत्नी से आये दिन विवाद भी होता रहता था।

शुक्रवार को भी पति पत्नी के बीच विवाद हुआ था। इसके बाद दोनों कमरे मे सोने चले गये। रात मे पति संतोष जायसवाल ने पत्नी की गला दबा कर हत्या कर दिया। हत्या करने के बाद पति खुद भोर में कपसेठी थाने पहुंचकर घटना की जानकारी दी। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घटना स्थल का निरीक्षण किया और शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया है।

संतोष कुमार जायसवाल को अनुष्का जायसवाल (10), प्रियांशु जायसवाल (8) व शिवम जायसवाल (5) बच्चे हैं। तीन भाइयों में संतोष सबसे छोटा बताया जाता है। सभी भाई मकान बनाकर अलग रहते हैं। संतोष की साली शिवानी जायसवाल भी अक्सर यही रहती है। वह भी एक बच्चे की मां बतायी जाती है। इस घटना को लेकर गांव में तरह-तरह की चचार्एं व्याप्त हैं।

पांच दिन पहले भी की थी आत्महत्या की कोशिश:

सेवापुरी कपसेठी थाना क्षेत्र के महिमापुर गांव निवासी संतोष जायसवाल की पत्नी सोनम जायसवाल ने विवाद के चलते पांच दिन पूर्व भी जहरीला पदार्थ खा कर आत्महत्या करने का प्रयास किया था। उसे इलाज के बाद बचा लिया गया था। पति व पत्नी से आये दिन विवाद होता रहता था। जिससे सोनम परेशान रहती थी। 

सोनम को कमरे में खींच ले गई मौत:

शुक्रवार की रात सोनम पति के साथ  सोना नही चाहती थी। वह सायंकाल विवाद होने के बाद पति के कमरे में नहीं जाना चाहती थी, उसने कई महिलाओं से यह बात भी बतायी कि पति मुझे मार डालेगा। अपनी बहन शिवानी से रात मे यह कह रही थी कि हमें डर लग रहा है कि हमारी हत्या न कर दे। इसलिए मैं दूसरे कमरे में सोऊंगी। किन्तु पति के कहने पर मान गयी और उसी के कमरे में जाकर सो गयी।