वाराणसी: पहड़िया में चल रहा था सेक्स रैकेट, पुलिस ने मारा छापा तो छत से कूदी 3 लड़कियां, 1 की मौत

वाराणसी(रणभेरी): पहड़िया इलाके के संजय नगर कॉलोनी के एक अपार्टमेंट में सेक्स रैकेट चलने की सूचना पर पुलिस ने जब रेड मारा तब मकान की छत से तीन लड़कियां कूद गईं। तीनों लड़कियां मकान की तीसरी मंजिल के छत से कूद गईं जिसके कारण एक लड़की की मौत हो गई, जबकि दो अन्य को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मौके से तीन युवकों और चार युवतियों को हिरासत में लिया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने पहड़िया चौकी प्रभारी काशीनाथ उपाध्याय को निलंबित कर दिया है।

किराये के मकान में रोज आते थे युवक-युवतियां:

बताया जा रहा है कि कैंट के पहड़िया क्षेत्र की संजय नगर कॉलोनी स्थित तीन मंजिला मकान के मालिक बाहर रहते हैं। उन्होंने अपने मकान को किराये पर दे रखा है। मकान में कई किरायेदार रहते हैं। कॉलोनी में रहने वाले लोगों के अनुसार मकान में हर रोज युवक-युवतियां आते-जाते रहते हैं। लोगों ने इनकी संदिग्ध गतिविधियां भी देखी, इसी वजह से रविवार की रात सूचना पुलिस को दी गई और मकान को कॉलोनी के लोगों ने घेर लिया।

गिरफ्तारी के डर से तीन मंजिला इमारत से लगायी छलांग:

पुलिस की रेड जब पड़ी तो मकान के अंदर मौजूद युवक और युवतियों में से तीन युवतियां छत पर भागी और वहां से छलांग लगा दी। बगल के प्लाट में गिरने के कारण एक युवती की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो युवतियां पड़ोसियों की छत पर गिरीं, जिसके कारण दोनों दो बुरी तरह से जख्मी हो गईं। कालोनी वालों का कहना है कि गिरफ्तारी के डर से युवतियों ने छलांग लगायी थी।

विदेशी लोग भी आते थे वहां:

एसएसपी प्रभाकर चौधरी के अनुसार सेक्स रैकेट संचालित होने की सूचना पर पीआरवी के पुलिसकर्मी मौके पर गए थे। सीओ कैंट और इंस्पेक्टर कैंट युवती की शिनाख्त कराने के साथ ही घटना की पड़ताल कर रहे हैं। पुलिस रेड में मौके से कई दस्तावेज बरामद हुए हैं। पुलिस ने चार वीजा भी बरामद किया है, ऐसी आशंका है कि यहां विदेश के युवक-युवतियों का भी आना-जाना चल रहा था।

मकान मालिक और पड़ोसी का विवाद:

पुलिस के मुताबिक देर शाम मकान में पहुंचे कुछ लोगों ने अपनी कार गली में खड़ी कर दी थी। पड़ोसियों को आवागमन में परेशानी हुई तो उन्होंने हटाने की बात कही। इसी पर मकान मालिक और पड़ोसियों का विवाद हो गया। जिसके बाद सेक्स रैकेट संचालित होने का आरोप लगाकर सभी जुट गए और बाहर से ताला बंद कर पुलिस को सूचना दे दी।


 

 


 

चश्मदीदों के मुताबिक विवाद के दौरान आसपास के लोग मकान मालिक के घर में घुस गए थे और संदिग्ध हालात का आरोप लगाकर युवक-युवतियों को बाहर निकालने का दबाव बनाने लगे। पकड़े जाने के डर से युवतियां जिस मंजिल पर थीं वहीं से कूद गईं।