स्पॉट फिक्सिंग: पाकिस्तान के एक और खिलाड़ी पर गिरी गाज, नासिर जमशेद को जेल की सजा

स्पॉट फिक्सिंग: पाकिस्तान के एक और खिलाड़ी पर गिरी गाज, नासिर जमशेद को जेल की सजा

इस्लामाबाद: पूर्व पाकिस्तानी बल्लेबाज नासिर जमशेद पर शुक्रवार को टी20 स्पॉट फिक्सिंग में साथी खिलाड़ियों को रिश्वत देने की साजिश में शामिल होने का दोषी पाए जाने के बाद 17 महीने जेल की सजा मिली है। राष्ट्रीय अपराध एजेंसी की जांच के बाद कथित स्पॉट फिक्सिंग मामले में 30 वर्षीय जमशेद को दो अन्य व्यक्तियों यूसुफ अनवर (36) और मोहम्मद एजाज (34) के साथ पिछले साल फरवरी में गिरफ्तार किया गया था। 

वेस्ट लंदन के रहने वाले लंदन ने इस साजिश में सबसे अहम भूमिका निभाई, उसे तीन साल चार महीने की सजा सुनाई गई है। नॉर्दर्न इंग्लैंड के शेफील्ड के एजाज को दो साल और छह महीने कैद की सजा मिली है।

पीएसएल में की थी स्पॉट फिक्सिंग:
जमशेद को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के फरवरी 2018 में इस्लामाबाद यूनाइटेड और पेशावर जल्मी के बीच दुबई में खेले गए मैच में खिलाड़ियों को 30 हजार पाउंड की एवज में खराब प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करने का दोषी पाया गया।

पुलिस की जांच में भी ये भी सामने आया कि जमशेद की योजना शुरू में बांग्लादेश प्रीमियर लीग 2016 के मैचों को भी फिक्स करने की थी, लेकिन उसने बाद में दो डॉट गेंदों की योजना रद्द कर दी थी। 

लेकिन जमशेद ने इसके बाद भी पीएसएल में खिलाड़ियों को स्पॉट फिक्सिंग के लिए प्रोत्साहित की। उसने शारजील खान को इस्लामाबाद के दूसरे ओवर की पहली दो गेंदों पर दो डॉट खेलने के लिए मनाया था। बाद में पीसीबी ने शारजील और जमशेद के साथ काम करने वाले एक अन्य खिलाड़ी खालिद लतीफ पर पांच साल का बैन लगा दिया था। 

जमशेद ने शुरू में स्पॉट फिक्सिंग के रिश्वत देने के आरोपों से इनकार किया था, लेकिन उसने दिसंबर में हुए ट्रायल के दौरान अपना बयान बदलते हुए अपनी गलती मान ली थी।