पीके और मोदी के बीच सोशल मीडिया पर छिड़ी जंग, पीके ने कहा 'क्रोनोलॉजी भी बिल्कुल क्लीयर है'

पीके और मोदी के बीच सोशल मीडिया पर छिड़ी जंग, पीके ने कहा 'क्रोनोलॉजी भी बिल्कुल क्लीयर है'

नई दिल्ली: बिहार सरकार के दो नेताओं प्रशांत किशोर और सुशील मोदी के बीच जंग छिड़ गई है। राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) की सरकार है। बीजेपी नेता सुशील मोदी राज्य के उप मुख्यमंत्री हैं, जबकि राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर जेडीयू नेता हैं। इन दोनों ही नेताओं के बीच अब जुबानी जंग जारी है। दरअसल हाल ही में सुशील मोदी ने बिना नाम लिए कुछ लोगों पर नीतीश कुमार के प्रति अहसान फरामोश होने का आरोप लगाया था।

सुशील मोदी ने क्या कहा?

सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'नीतीश कुमार जी के साथ यह विडंबना अक्सर होती है कि अपनी उदारतावश वे जिनको फर्श से उठाकर अर्श पर बैठाते हैं, वे ही उनके लिए मुसीबत बनने लगते हैं। उन्होंने किसी को अपनी कुर्सी दी, कितनों को राज्यसभा का सदस्य बनवाया, किसी को गैरराजनीतिक गलियों से उठाकर संगठन में ऊंचा ओहदा दे दिया, लेकिन इनमें से कुछ लोगों ने थैंकलेस होने से गुरेज नहीं किया। राजनति में भी हमेशा सब जायज नहीं होता।'

प्रशांत किशोर ने क्या कहा?

सुशील मोदी के इस ट्वीट का जवाब देते हुए प्रशांत किशोर ने भी उनका पुराना वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया। अपने ट्वीट में प्रशांत किशोर ने कहा, 'लोगों को कैरेक्टर सर्टिफिकेट देने में सुशील मोदी जी का कोई जोड़ नहीं है। देखिए पहले बोल कर बता रहे थे और अब डिप्टी सीए बना दिए गए तो लिख कर दे रहे हैं। इनकी क्रोनोलॉजी भी बिल्कुल क्लीयर है!!' इस ट्वीट में प्रशांत किशोर ने सुशील मोदी को टैग भी किया।