'नवाजुद्दीन ने मुझसे मेरा धर्म बदलने के लिए कहा, मैंने वो भी किया लेकिन उसके बाद जो हुआ...'

'नवाजुद्दीन ने मुझसे मेरा धर्म बदलने के लिए कहा, मैंने वो भी किया लेकिन उसके बाद जो हुआ...'

नई दिल्ली: फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी को उनकी पत्नी आलिया सिद्दीकी ने तलाक का कानूनी नोटिस भेजा है। नवाजुद्दीन और उनके परिवार के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाते हुए आलिया ने उनसे मेंटेनेंस की भी मांग की है। इसके अलावा आलिया ने अपने दोनों बच्चों को भी अपने पास ही रखने की मांग की है। वहीं, नवाजुद्दीन सिद्दीकी इन दिनों अपनी मां की बीमारी के चलते यूपी के मुजफ्फरनगर में अपने पैतृक घर आए हुए हैं और इस मामले पर अभी तक उनकी तरफ से कोई बयान नहीं आया है। इस बीच आलिया ने मीडिया से बात करते हुए उन आरोपों का खुलासा किया है, जो उन्होंने नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनके परिवार पर लगाए हैं। 

'मैंने तलाक का फैसला क्यों लिया':

न्यूज वेबसाइट 'बॉलीवुड लाइफ' से बात करते हुए आलिया सिद्दीकी ने बताया, 'हमारे रिश्ते में परेशानी काफी पहले से शुरू हो गईं थी, नवाजुद्दीन से मेरी शादी के बाद से ही, लेकिन मैं उन्हें सामने नहीं ला रही थी। मैं कोशिश कर रही थी कि वो सारे मामले किसी तरह सुलझ जाएं, इंतजार कर रही थी कि सब पहले जैसा ठीक हो जाए, लेकिन आखिर में मुझे ये फैसला लेना पड़ा। बहुत सारे कारण हैं, जिनकी वजह से मैंने तलाक का इतना बड़ा फैसला लिया। दरअसल इस रिश्ते में मेरा आत्म-सम्मान धीरे-धीरे खत्म हो रहा था।' 

'उन्होंने मुझसे मेरा धर्म बदलने के लिए कहा, तो मैंने वो किया':

अपने रिश्ते के बारे में बात करते हुए आलिया ने कहा, 'आप एक खास तरह से घर में पले-बड़े होते हैं, एक माहौल-एक परिवार से आप आते हैं, जिस तरह से आपकी मां और आपके भाई आपका ध्यान रखते हैं और फिर अचानक आपको अपना धर्म बदलना पड़ता है...खैर चलो कोई बात नहीं, वो शादी के लिए जरूरी था, इसलिए जब उन्होंने मुझसे मेरा धर्म बदलने के लिए कहा, तो मैंने वो किया। लेकिन, फिर उसके बाद आपकी जिंदगी बुरी तरह बदल जाती है, आपको एहसास होता है कि आप उसकी लाइफ में कुछ थे ही नहीं, उसके जीवन में आपकी कभी कोई अहमियत ही नहीं थी। आप 10 साल तक उसके बच्चों के साथ बस अकेले ही रह रहे थे, आपने जो कुछ किया वो सब अकेले किया। इसलिए, मैंने इस रिश्ते को खत्म करने का फैसला लिया। आखिर, जब मैं सबकुछ अकेले ही कर रही हूं, तो फिर तो मुझे अकेले ही रहना चाहिए।' 

'उसके भाई ने मुझे मारा भी':

नवाजुद्दीन सिद्दीकी के घर में अपने ऊपर शारीरिक हिंसा और प्रताड़ना का जिक्र करते हुए आलिया ने कहा, 'नवाजुद्दीन ने कभी मेरे ऊपर हाथ नहीं उठाया, लेकिन हर वक्त चिल्लाना और बहस मेरे लिए बर्दाश्त से बाहर हो गए थे। आप हालांकि कह सकते हैं कि केवल यही सब तो था। हां, लेकिन उनके परिवार ने मुझे मानसिक और शारीरिक रूप से बहुत प्रताड़ित किया है। यहां तक कि उसके भाई ने मुझे मारा भी था। उनकी मां, भाई और भाभी हमारे साथ मुंबई में ही रहते थे। इसलिए, मैं पिछले कई साल से ये सब झेल रही हूं। उनकी पहली पत्नी ने भी इसी वजह से उनका साथ छोड़ा। ये उनके घर का पैटर्न है।' 

'केवल मेरी बहन मेरा साथ दे रही है': 

आलिया ने आगे बताया, 'उनके घर में उनके परिवार के लोगों के खिलाफ पहले से ही पत्नियों के सात केस दर्ज है और चार तलाक हो चुके हैं। ये पांचवां तलाक है। ये उनके परिवार का एक पैटर्न है। आप शर्मिंदगी से बचने के लिए दूसरों के सामने काफी कुछ छिपा लेते हैं, लेकिन प्यार में आखिर आप कितना सह सकते हैं। मेरे माता-पिता अब इस दुनिया में नहीं है और पिछले साल दिसंबर में मेरे भाई भी मुझे छोड़कर चले गए, एक केवल मेरी बहन है जो मेरा साथ दे रही है।' 

'अब तो बच्चे भी अपने पिता के बारे में नहीं पूछते':

नवाजुद्दीन सिद्दीकी के ऊपर अपने बच्चों के प्रति लापरवाही और समय ना देने का आरोप लगाते हुए आलिया ने कहा, 'आप कितने ही बड़े कलाकार क्यों ना हो, लेकिन क्या फायदा अगर आप एक अच्छे इंसान ही नहीं हैं? आपके एक अच्छे कलाकार होने का क्या मतलब, अगर आपके मन में अपने बच्चों और पत्नी के लिए इज्जत ही नहीं है? हमारे बच्चों को याद तक नहीं है कि उनके पिता उनसे आखिरी बार कब मिले थे। उसे अपने बच्चों से मिले हुए 3-4 महीने हो चुके हैं, लेकिन उसे कोई परवाह ही नहीं है, इसलिए अब बच्चों को भी आदत सी हो गई है और वो अपने पिता के बारे में पूछते ही नहीं है। इसी वजह से मैं चाहती हूं कि तलाक के बाद मेरे बच्चे मेरे साथ रहें।' 

'कुछ लोग शोहरत को नहीं संभाल पाते':

आलिया ने आगे कहा, 'कुछ लोग शोहरत को नहीं संभाल पाते और नवाजुद्दीन उन लोगों में से एक हैं। मैंने उस घर में बहुत ज्यादा अपमान सहन किया। लेकिन, अब मैंने उसका नाम अपने नाम से हटाने और अपनी एक अलग पहचान बनाने का फैसला लिया है। हमारी शादी की शुरुआत में नवाजुद्दीन ने मुझसे कहा था कि अगर वो अकेला भी कमाएगा तो हम दोनों के लिए काफी है। मुझे नहीं पता कि मैं क्या करूंगी, लेकिन मैं सम्मान के साथ जीवन जीना चाहती हूं, ना कि केवल एक स्टार की पत्नी के तौर पर। वो मुझसे कहते रहते थे कि मुझे बात करना नहीं आता, मैं कुछ नहीं जानती और इसलिए वो मुझे सबके सामने लेकर नहीं जाते। मैं ये सब नहीं कहना चाहती थी, लेकिन आप कब तब इस तरह अपनी पत्नी का अपमान करेंगे। मैं एक बुरे सपने की तरह अब इस चैप्टर को अपनी जिंदगी से हटाना चाहती हूं।'