हैदराबाद गैंगरेप: मौत के बाद भी शव के साथ करते रहे रेप

हैदराबाद गैंगरेप: मौत के बाद भी शव के साथ करते रहे रेप

हैदराबाद: हैदराबाद में डॉक्‍टर से रेप और फिर मर्डर की दिल दहला देने वाली घटना में एक और झकझोर देने वाला सच सामने आया है। पुलिस रिमांड की रिपोर्ट पर अगर यकीन करें तो हत्‍या के बाद भी दरिंदे मरने के नहीं रुके थे और वो डॉक्‍टर के डेड बॉडी से लगातार रेप करते रहे थे। रिपोर्ट में रोंगटे खड़े कर देने वाली और ज्‍यादा जानकारियां सामने आई हैं। बता दें कि हैदराबाद के बाहरी इलाके में शुक्रवार को पुलिस को महिला डॉक्‍टर का जला हुआ शव बरामद हुआ था।

एक घंटे में किया था पूरा अपराध
केस की पुलिस रिमांड की रिपोर्ट को शनिवार को कोर्ट में जमा किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चारों आरोपियों ने लॉरी केबिन में भी पीड़‍िता का बारी-बारी से बलात्‍कार किया था। चारों आरोपियों मोहम्‍मद उर्फ आरिफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंटा चिन्‍नाकेशवाउलू एक घंटे के अंदर इस पूरे अपराध को अंजाम दिया था। डॉक्‍टर को पहले एक खुले हुए प्‍लॉट में ले जाया गया, फिर उसे जबरदस्‍ती कोल्‍ड ड्रिंक में मिलाकर व्‍हीस्‍की पिलाई , फिर उसके सिर पर हमला हुआ। इसके बाद उसका बलात्‍कार किया गया और फिर उसे मार दिया।

चारों आरोपी

लॉरी केबिन में शव से गैंगरेप
हत्‍या के बाद उसके शव को लॉरी के केबिन में फेंक दिया गया और फिर एक-एक करके पीड़‍िता का बलात्‍कार किया गया। केबिन में इस कुकृत्‍य को अंजाम देने के बाद उन्‍होंने फैसला किया कि वो आगे निकल जाएंगे। लेकिन ट्रक से उतरकर वो सभी उसके कपड़े लेने के लिए वापस आए। शादनगर की तरफ जाने वाले नेशनल हाइवे पर वो बढ़ते रहे और फिर एक सूनसान जगह देकर उसके शव को जला दिया गया। शादनगर के चाटनपल्‍ली में रुकने के बाद उन्‍होंने उसके शव को एक कंबल में लपेटा और फिर उसे जलाने के लिए गाड़ी से उतरे।

जलाने का फैसला क्यों?
पीड़‍िता की पहचान कभी सामने न आने पाए, इसके लिए बलात्‍कारियों ने उसे जलाने का फैसला किया था।