महिला तहसीलदार को 'हीरोइन' कहकर बुरे फंसे बीजेपी के पूर्व मंत्री, मचा बवाल

महिला तहसीलदार को 'हीरोइन' कहकर बुरे फंसे बीजेपी के पूर्व मंत्री, मचा बवाल

मुंबई: भाजपा नेता और महाराष्ट्र सरकार में पूर्व मंत्री बबनराव लोणीकर सोशल मीडिया पर एक ऑडियो क्लिप वायरल होने से बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं। इस ऑडियो क्लिप में एक भाषण के दौरान वह एक महिला तहसीलदार के लिए कथित तौर पर 'हीरोइन' शब्द का इस्तेमाल करते सुनाई दे रहे हैं। हालांकि, उन्होंने इसमें किसी का भी नाम नहीं लिया है।

घटना शनिवार की है जब वह महाराष्ट्र के जालना जिले में परतुर तहसील के करहला गांव में एक सभा को संबोधित कर रहे थे। इस सभा में उन्होंने कहा कि किसानों के लिए आयोजित एक रैली के लिए 'हीरोइन' को भी बुलाया जा सकता है। उस ऑडियो क्लिप में लोणीकर ये कहते सुनाई दे रहे हैं कि, "अगर किसान सरकार से 25,000 रुपये की सहायता चाहते हैं, तब वो मराठवाड़ा के परतुर में एक बड़ी रैली की योजना बना सकते हैं। इसमें हम 25,000 से 50,000 लोगों को शामिल कर सकते हैं। अगर जिला परिषद और पंचायत समिति के सदस्य तय करते हैं तब हम राज्य के परतुर में सबसे बड़ी मार्च निकाल सकते हैं।"

पूर्व मंत्री इसके आगे कथित तौर पर ये कहते सुनाई दे रहे हैं कि, "हम देवेंद्र फडणवीस, चंद्रकांत पाटिल और सुधीर मुनगंटीवार को बुला सकते है। आप बताइए कि किन्हें बुलाना चाहिए.....हम इसके लिए एक हीराइन को भी बुला सकते हैं। अगर नहीं तो हमारी तहसीलदार मैडम तो हीरोइन के रूप में हैं ही।"

बीजेपी नेता के इस बयान के बाद एनसीपी ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पार्टी की वरिष्ठ नेता और एमएलसी विद्या चव्हाण ने कहा है कि महिला तहसीलदार के लिए इस तरह की टिप्पणी कभी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि इससे भाजपा की मानसिकता झलकती है। उन्होंने यहां तक कहा कि ऐसी टिप्पणी एक महिला के सम्मान के खिलाफ है।