कोरोना ने बदल दी जिंदगी, 4 दिन से नाव पर रहने को मजबूर 60 साल का बुजुर्ग

कोरोना ने बदल दी जिंदगी, 4 दिन से नाव पर रहने को मजबूर 60 साल का बुजुर्ग

कोलकाता: कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है और इस कारण लोगों को घरों में रहने की सलाह दी जा रही है। लेकिन इस बीच कोरोना वायरस के कारण पश्चिम बंगला से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है कि 60 साल के बुजुर्ग को नाव पर रहने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

दरअसल, पश्चिम बंगाल के नादिया के रहने वाले 60 वर्षीय निरंजन अपने हबीबपुर अपने किसी रिश्तेदार के घर गए थे, लेकिन वहां से लौटने के बाद उन्हें बुखार था। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने उन्हें गांव में आनें नहीं दिया।

डॉक्टर ने निरंजन को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन होने के लिए कहा था, जिसके बाद से वो नाव पर रहने को मजबूर हो गए हैं और वह पिछले 4 दिनों से वहीं पर रह रहें हैं।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में अब तक कोरोना वायरस के 37 मामले सामने आए है और 3 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। वहीं पूरे देश में अब तक कोरोना वायरस से 1965 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 50 लोगों की मौत हो चुकी है।