Breaking: 25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, एयरपोर्ट अथॉरिटी ने जारी की गाइडलाइन्स

Breaking: 25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, एयरपोर्ट अथॉरिटी ने जारी की गाइडलाइन्स

नई दिल्ली: एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) ने 25 मई से घरेलू उड़ानें पुन आरंभ करने के खातिर हवाईअड्डों के लिए मानक संचालक प्रक्रियाएं (SOP) जारी की है। एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा जारी नई गाइडलान्स के मुताबिक आरोग्य सेतु ऐप 14 साल से कम आयु के बच्चों के लिए अनिवार्य नहीं है। इसके अलावा यात्रा कपने वाले सभी यात्रियों के फोन में आरोग्य सेतु ऐप का होना जरूरी है। SOP में कहा गया है कि यात्रियों के लिए हवाईअड्डा टर्मिलन इमारत में प्रवेश करने से पहले थर्मल जांच क्षेत्र से गुजरना अनिवार्य होगा। गाइडलान्स के मुताबिक सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। SOP मे कहा गया है कि हवाईअड्डा संचालकों को टर्मिनल इमारत में प्रवेश से पहले यात्रियों के सामान को संक्रमण मुक्त करने के लिए उचित प्रबंध करने होंगे। 

25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, पढ़ें नागर विमानन मंत्री ने क्या कहा? 

नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार (20 मई) को कहा कि घरेलू यात्री उड़ानों को 25 मई से क्रमिक तरीके से बहाल किया जाएगा। हालांकि, पुरी ने यह नहीं बताया कि अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें कब बहाल होंगी। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के बीच देश में 25 मार्च से सभी व्यावसायिक यात्री उड़ानें निलंबित हैं। पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘घरेलू उड़ानों का परिचालन 25 मई, 2020 से क्रमिक तरीके से फिर शुरू किया जाएगा। सभी हवाई अड्डों और विमानन कंपनियों को 25 मई से परिचालन के लिए तैयार रहने को सूचित किया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘नागर विमानन मंत्रालय यात्री परिवहन के लिए मानक परिचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) अलग से जारी कर रहा है।’’ 

अधिकारियों ने यह भी कहा कि सरकार सभी हवाई किरायों की सीमा तय कर सकती है ताकि एयरलाइन्स अनाप-शनाप किराया न वसूल सकें। अधिकारी ने कहा, ‘‘हवाई किरायों पर निम्नतम मूल्य और अधिकतम मूल्य सीमा के संबंध में फिलहाल विचार चल रहा है। जल्द फैसला किया जाएगा।’’ महामारी की वजह से विमानन क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुआ है। 

भारत समेत अनेक देशों ने व्यावसायिक उड़ानों को पूरी तरह निलंबित करने का फैसला किया था। हालांकि, मालवाहक विमान, चिकित्सा आपात उड़ानें तथा डीजीसीए द्वारा मंजूर अन्य विशेष उड़ानों को इस अवधि में अनुमति दी गयी। सरकार के अधिकारियों ने कहा कि देश के सभी हिस्सों में 25 मार्च से उड़ानों का परिचालन फिर शुरू होगा। एक अधिकारी ने पश्चिम बंगाल और पूर्वी भारत के अन्य हिस्सों को प्रभावित करने वाले तूफान अम्फान का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हालांकि हम इस समय कोलकाता के मौजूदा मौसम के हालात को देखते हुए वहां से उड़ानों को लेकर सुनिश्चित नहीं हैं।’’ 

(पीटीआई इनपुट के साथ)