दुकान में भगवा झंडा लगाने पर कार्रवाई, FIR में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने का आरोप

दुकान में भगवा झंडा लगाने पर कार्रवाई, FIR में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने का आरोप

पटना: बिहार के नालंदा जिले में बजरंग दल सदस्यों द्वारा जरूरी सामान की दुकानों के बाहर भगवा झंडा लगाने पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने दो बजरंग दल के  सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई की है। इस मामले पर कार्रवाई बिहारशरीफ के प्रखंड विकास पदाधिकारी राजीव रंजन के कहने पर हुई है। एफआईआर लहेरी थाना में दर्ज की गई है। 

बजरंग दल के सदस्यों पर आरोप है कि इन्होंने स्थानीय हिंदुओं से आग्रह किया था कि वे अपनी जरूरत की वस्तुएं जैसे फल, सब्जी, राशन इत्यादि हिंदुओं की दुकान से ही खरीदें। FIR में लिखा गया है कि लहेरी थाना अंतर्गत भरावपर चौक के पास वाली सभी हिंदु धर्म के लोगों की दुकानों के बाहर बजरंग दल के सदस्यों ने भगवा झंडा लगाया है।

नालंदा में बजरंग दल सदस्यों द्वारा जरूरी सामान की दुकानों के बाहर भगवा झंडा लगाने पर राजीव रंजन प्रखंड विकास पदाधिकारी बिहारशरीफ ने FIR दर्ज़ करवाई-लहेरी थाना अंतर्गत भरावपर चौक के पास वाली सभी हिंदु धर्म के लोगों की दुकानों के बाहर बजरंग दल के सदस्यों ने भगवा झंडा लगाया है।

एफआईआर में राजीव रंजन ने कहा है,18 अप्रैल को भरावपर चौक का दौरा किया था, “जहां मैंने देखा कि स्थानीय बजरंग दल के सदस्य कुंदन कुमार, धीरज कुमार और पांच अन्य अज्ञात लोगों द्वारा हिंदुओं के स्वामित्व वाली दुकानों पर भगवा झंडे फहराए जा रहे हैं और हिंदुओं से केवल उन दुकानों से सामान खरीदने का आग्रह किया जा रहा है, जिन पर भगवा झंडे हैं या हिंदुओं के स्वामित्व हैं। 

एफआईआर में राजीव रंजन ने आरोप लगाया है कि बजरंग दल के इस काम से सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने की संभावना बनी हुई है तथा सांप्रदायिक तनाव भी पैदा हो सकता है।  इन पर आईपीसी की धारा 147, 149, 188, 153 (A) और 295 (A) के तहत कार्रवाई की गई है।